Wednesday, February 21, 2024

Meaning of Philosophy | दर्शन का अर्थ

More articles

Meaning of Philosophy | Darshan Ki Paribhasha | Darshan Ka Arth
दर्शन की परिभाषा | दर्शन का अर्थ

“” दर्शन “”

जब जब लीक से हटकर जीवन को नये ढंग से सोचा जाता है ,
कुछ के नजर में शोधकर्ता तो किसी नजर में वह मुजरिम हो जाता है ;
जब-जब लोहा लिया औऱ छोड़ी अमिट छाप उस विचार ने ,
तो दुनिया की नजर में वह “” दर्शन “” कहलाता है ;

वैसे दर्शन में “”द”” से दूरदर्शिता जहां मूलतत्व को जानने की खोज में लगी रहती हो ,
वहां दरबदर होकर हर अक्ष को दर्पण से गुजरना होता है ;
“”र”” से रास्ता जहां खोज करने के लिये ही दिमाग खुला हो ,
वहां नवविचारों को पनपने व जानने की स्वतंत्रतता व जिज्ञासा बनी रहती है ;

“”श”” से शास्त्रार्थ जहां संस्कृति की परंपरा रही हो ,
वहां जीवन के हर पहलू को सँवारने की संकल्पना भी बनी रहती है ;
“”न”” से निर्बाध रूप से जहां एक मंच पर विचार विमर्श हो ,
वहां किसी एक व्यक्ति की भी विचारधारा के आगमन का भी सम्मान होता है ;

अंतिम सत्य को जानने का अथक प्रयास जहां जब – जब चलता है ,
पद्धति द्वारा फिर उसे लेखनीबद्ध कर एक नया नाम दिया जाता है ;

“” दूरदर्शिता के रास्ते पर शास्त्रार्थ जहां निर्बाध रूप से मूलतत्त्व की खोज में हो ,
वहां नवविचारों का संकलन ही “”दर्शन“” कहलाता है। “”

“” जीवनशैली के अनुसरण, अनुगम्य व व्यवहारिक होने का गुण ही उसकी व्यापकता को दर्शाता है। “”

These valuable are views on Meaning of Philosophy | Darshan Ki Paribhasha | Darshan Ka Arth.
दर्शन की परिभाषा | दर्शन का अर्थ

मानस जिले सिंह
【यथार्थवादी विचारक 】
अनुयायी – मानस पंथ
उद्देश्य – मानवीय मूल्यों की स्थापना हेतु प्रकृति के नियमों का यथार्थ प्रस्तुतीकरण में संकल्पबद्ध योगदान देना।

2 COMMENTS

Subscribe
Notify of
guest
2 Comments
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Juneja juneja
Sandeep juneja
1 year ago

बहुत अच्छा वर्णन है …..

Sanjay Nimiwal
Sanjay
1 year ago

दर्शन ….

मन की सुन्दरता केवल मन से सुन्दर व्यक्तित्व ही देख पाता है।

Latest