Tuesday, May 28, 2024

Definition of Act | कर्म की परिभाषा

More articles

कर्म की परिभाषा | कर्म क्या है
Definition of Act | Meaning of Perform | Karma Ka Matlab | Karma Ka Arth
“” कर्म “”
“” अभिलाषा फलस्वरूप की जाने वाली कोशिश ही कर्म कहलाती है। “”
“” पूर्व निर्धारित पुष्टि की सिद्धि हेतु किये जाने वाली मेहनत ही कर्म कहलाती है। “”
सामान्य परिप्रेक्ष्य में –
“” क “” से  कष्ट जहां जीवनशैली का अभिन्न अंग बन जाये ,
वहाँ करुणाशील व व्यवहारिक व्यक्तित्व बनना अवश्यम्भावी हो जाता है ;
“” र “” से राह जहां कार्यव्यवहार के तरीके मे शामिल होने लगे तो,
वहाँ कार्य के प्रति प्रेम व उत्साह बना रहना लाजमी हो जाता है ;
“” म “” से मंजिल जहां हर वक़्त पाने को प्राणी ललायित रहता हो ,
वहाँ हर घड़ी अद्वितीय परिणाम आने की सम्भावनाएं बढ़ जाती हैं ;
 “” वैसे कष्ट की राह पर जहां मंजिल पाने की उम्मीद हो तो,
वहाँ  हर सार्थक युक्ति ही “” कर्म “”  कहलाती हैं। “”
वैसे मानस के अंदाज में —
“” वांछित निष्कर्ष हेतु किया जाने वाला संघर्ष ही कर्म कहलाता है। “”
“‘ कर्म करना एक मानवीय स्वभाव है परंतु कैसा कर्म हो यह हमारा नैतिक आचरण, सामाजिक परिवेश व हमारा संस्कार तय करवाता है। “”
These valuable are views on Definition of Act | Meaning of Perform | Karma Ka Matlab | Karma Ka Arth .
कर्म की परिभाषा | कर्म क्या है
मानस जिले सिंह
【 यथार्थवादी विचारक】
अनुयायी – मानस पँथ
उद्देश्य –  सामाजिक व्यवहारिकता को सरल , स्पष्ट व पारदर्शिता के साथ रखने में अपनी भूमिका निर्वहन करना।

2 COMMENTS

Subscribe
Notify of
guest
2 Comments
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Devender
2 years ago

मानस के अंदाज में
'कर्म'
की *व्याख्या* लाजबाव ।
🙏🙏💐💐

Sanjay Nimiwal
Sanjay
1 year ago

🙏🙏🙏

कर्म ही वो आईना है….

जो हमें हमारा असली चेहरा दिखाता है।।

Latest