Monday, April 15, 2024

Definition of Comment | समालोचना की परिभाषा

More articles

समालोचना का अर्थ | समालोचना की परिभाषा
Definition of Comment | Meaning of Comment | Samalochana Ki Paribhasha

| समालोचना |

“” किसी के गुण धर्मों का विश्लेषणात्मक विवेचन व उसके अपराह्न दिया गया विचारशील , नवसृजनात्मक व्याख्यान ही समालोचना है। “”

“” यथा / वास्तविक परिस्थितियों के अनुरूप विचारों में सकारात्मक बदलाव की अपेक्षा रखते हुए भी उसके महत्व को मण्डित करने की विधा ही समालोचना है। “”

साधारणतया –
सम = सामंजस्य
लोचना = इच्छा रखना

“” वैसे सामंजस्य रखते हुए इच्छित 【 भावों की अभिव्यक्ति 】 भावाभिव्यक्ति ही समालोचना है। “”

वैसे “” स “” से 【 समान भाव 】
“” म “” से 【 मौलिकता 】
“” ल “” से 【 लयबद्ध 】
“” च “” से 【 चैतन्यता 】
“” न “” से 【 निमयमबद्धता 】

“” वैसे समानभाव में मौलिकता के साथ लयबद्धता, चैतन्यता के उपरांत की गई नुक्ताचीनी ही समालोचना कहलाती है। “”

“” अपेक्षित भाव में भी उपेक्षा की तरजीह से बचते हुए अपनी समरस विचारशक्ति का लोहा मनवाना ही समालोचना है। “”

“” निर्णायक परिस्थितियों में भी दूसरे के बचाव की जगह बनाये रखते हुए अपना कलात्मक प्रदर्शन ही समालोचना कहलाती है। “”

These Valuable are views on the Definition of Comment | Meaning of Comment | Samalochana Ki Paribhasha
समालोचना का अर्थ | समालोचना की परिभाषा

मानस जिले सिंह
【यथार्थवादी विचारक 】
अनुयायी – मानस पंथ
उद्देश्य – मानवीय मूल्यों की स्थापना हेतु प्रकृति के नियमों का यथार्थ प्रस्तुतीकरण में संकल्पबद्ध योगदान देना।

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Latest