Sunday, July 14, 2024

Definition of Offense | गुनाह की परिभाषा

More articles

गुनाह की परिभाषा | गुनाह क्या है
Definition of Offense | Meaning of Crime | Gunah Ki Paribhasha

“” गुनाह “”

“” मन, वचन व कर्म द्वारा प्रतिफल स्वरूप दण्ड मिलना जहां तय हो जाये वह गुनाह कहलाता है। “”

“” वैधता में दण्ड की पात्रता का आधारस्तंभ गुनाह ही है। “”

सामान्य परिप्रेक्ष्य में –

वैसे “” ग “” से गिरवी ज़मीर
“” न “” से निर्लज्जता
“” ह “” से हशोहवास

“” गिरवी ज़मीर जब निर्लज्जता में हशोहवास भी खो दे तो गुनाह को निमंत्रण जाना भी तय ही है। “”

वैसे “” ग “” से गफ़लती आचरण
“” न “” से नकबजनी नेकनीयती की
“” ह “” हरामीपन

“” गफ़लती आचरण से नकबजनी जब नेकनीयती की हो तो हरामीपन गुनाह ही करवाता है। “”

मानस की विचारधारा में –

“” मनमाफ़िक फैसले जब कटघरे में खड़ा कर दे तो वह गुनाह कहलाता है। “‘

“” दम्भ में की गई उदण्डता जब सजा में बदले तो वह गुनाह है। “”

—- “” दृष्टता जहां कर्मफल में कष्ट का स्वरूप धारण करे तो वह गुनाह है। “” —-

“” गुनाह करना तो आसान हो जाता है पर उससे बनी छाया आपका जीवन भर पीछा करती है। “”

These valuable are views on Definition of Offense | Meaning of Crime | Gunah Ki Paribhasha
गुनाह की परिभाषा | गुनाह क्या है

मानस जिले सिंह
【 यथार्थवादी विचारक】
अनुयायी – मानस पँथ
उद्देश्य – सामाजिक व्यवहारिकता को सरल , स्पष्ट व पारदर्शिता के साथ रखने में अपनी भूमिका निर्वहन करना।

3 COMMENTS

Subscribe
Notify of
guest
3 Comments
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Amar Pal Singh Brar
Amar Pal Singh Brar
1 year ago

बहुत खूब

Mahender lathar
Mahender lathar
1 year ago

Very nice explanation

Sanjay Nimiwal
Sanjay
1 year ago

सुन्दर व्याख्या 🙏👌🙏

इन्सान की फितरत है वह रोज गुनाह करता है,

पर ऊपर वाले की रहमत है, वो छुपा लेता है ।।।

Latest