Monday, May 27, 2024

Definition of Story | कहानी की परिभाषा

More articles

कहानी का अर्थ | कहानी की परिभाषा
Definition of Story | Meaning of Description | Kahani Ki Paribhasha

 | कहानी |

तन्हाई के लम्हे भी भीड़ में जिये ऐसे कि हम एक “”कहानी”” बनाते हैं ,
गुजर गये मलहम भी जो हमें घाव देकर फिर वे जख्म सरेबाजार दिखाते हैं ;

फूलों की मार से बनी लील अब हमें नहीं डराती जो ,
प्यार ने तोड़े जो सपनों के महल अब उसे दर्द ऐ दिल ही उठाते हैं ;

कहानी में “”क”” से किरदार मेहनत कर जहां कर्मयोगी बनते हैं ,
कार्यकुशलता हर पहलू को परख उसके पैमाने बनाते हैं ;

“”ह”” से हमसफ़र के साथ हर वक़्त अब जो जीने लगा ,
हाजिरजवाबी को अपनाकर अब फिर हमदर्द भी बन जाते हैं ;

“”न”” से नाटक जहां जीवन के रंगमंच पर रचा है ;
नोटंकी द्वारा एक रचनात्मक लेखन अब नाटककार जीवंत बनाते हैं ;

किरदार जब हमसफ़र के साथ जब नाटक दिखाने लगते हैं ,
तो हर लम्हें अब एक नई “” कहानी “” गुनगुनाने लगते हैं ;

These valuable are views on Definition of Story | Meaning of Description | Khani Ki Paribhasha
कहानी का अर्थ | कहानी की परिभाषा

मानस जिले सिंह
【यथार्थवादी विचारक 】
अनुयायी – मानस पंथ
उद्देश्य – मानवीय मूल्यों की स्थापना हेतु प्रकृति के नियमों का यथार्थ प्रस्तुतीकरण में संकल्पबद्ध योगदान देना।

1 COMMENT

Subscribe
Notify of
guest
1 Comment
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Sanjay Nimiwal
Sanjay
1 year ago

सुन्दर परिभाषा….

कल्पना और हकीकत में फर्क होता है,

परन्तु हर कहानी का अर्थ जरूर होता है।

Latest