Sunday, April 21, 2024

Definition of Trust | भरोसे की परिभाषा

More articles

भरोसे की परिभाषा | भरोसे का अर्थ
Definition of Trust | Meaning of Trust | Bharose ki Paribhasha

” भरोसा “‘”

जब-जब भरोसा तोड़ा गया ,
मर्यादायें तार-तार हो बिखर भी गयीं ;
अंतर्मन का टूटना तो लाज़मी था ही ;
दिल भी शीशे के तरह चकनाचूर हो गया ;

जिसने चक्रवात की प्रचंड लहरों को कभी यूँही पार कर लिया ,
अब हवा का झोंका भी शिकारे को डरा सा गया ;
जो कभी जांबाज़ी से निहत्थे ही शेरों ढेर करते थे ,
आज हथियारयुक्त होकर भी सियारों को “” जिगर ऐ लहू “” पिला गया ;

भरोसे में जहां “”भ”” से “” भातृत्व “” का आभास होने लगे ,

वहीं “”र”” से “”” रहमत “”” की आस भी जगने लगे ;

“”स”” से “” संरक्षित “”” होने का जो अहसास भी होने,

“” भातृत्व में जब रहमत व सरंक्षित का आभास होने लगे तो वह फिर भरोसा कहलाता है। “” ;

वैसे भरोसे में

“”भ”” से भीतरघात जहां पग पग निमन्त्रण देने लगे ,

“”र”” से रोष भी ढेर सारा व्याप्त हो जहां ;

“”स”” से सत्यानाश की लालसा भी जब सिर चढ़कर बोले ,

रोष में भीतरघात से सर्वनाश की लालसा परवान चढ़ने लगे तो भरोसा टूट अब विश्वासघात हो जाता है ;

इसीलिये मानस बुजुर्गों द्वारा बार-बार कहा गया ,
ज़हर की जगह जब किसी को भरोसा दिया गया हो तो ;

हलाहल विष का ईलाज फिर भी हो गया होता है ,
भरोसा जो टूटे तो “” इंसान जीवित होते हुए भी जिंदा लाश “” बन जाता है। ;

These valuable are views on Definition of Trust | Meaning of Trust | Bharose ki Paribhasha
भरोसे की परिभाषा | भरोसे का अर्थ

मानस जिले सिंह
【 यथार्थवादी विचारक】
अनुयायी – मानस पँथ
उद्देश्य – समाज में शिक्षा, समानता व स्वावलंबन के प्रचार प्रसार में अपनी भूमिका निर्वहन करना।

9 COMMENTS

Subscribe
Notify of
guest
9 Comments
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Manas Shailja
Member
2 years ago

Nice thought

Sanjay Nimiwal
Sanjay
2 years ago

लाजवाब, 👌

सुन्दर अभिव्यक्ति 🙏

Devender
Devender
2 years ago

गजब व्याख्या

Mohan Lal
Member
2 years ago

बहुत ही अच्छा लिखा गुरु जी

Harish
Harish
2 years ago

Nice 👍

Hem Pratap Bisht
Hem
2 years ago

Nice

ONKAR MAL Pareek
Member
2 years ago

“भरोसा” पढ़ने मे बहुत ही साधारण सा दिखने वाला शब्द है परन्तु मेरी धारणा ये है की इस छोटे लेकिन बहुत ही गंभीर अर्थ वाले शब्द पर पूरी सृष्टि टिकी हुई है ओर हाँ जब ये तोड़ा जाता है तो इसके परिणाम भी बहुत गम्भीर होते है जिसका उल्लेख हमारे पूराणों एवं इतिहास मे भी दर्ज है / लेखक द्वारा बहुत ही सुन्दर विवेचना की गई है /

jagmohan chugh
Jagmohan
2 years ago

शानदार

Latest