Tuesday, May 28, 2024

Meaning of Inner Conflict | अंतर्मन का द्वंद

More articles

अंतर्मन का द्वंद | हौंसले के साथ मेहनत
Meaning of Inner Conflict | Definition of Inner Conflict | Antarman Ki Paribhasha

“” अंतर्मन का कठिनाइयों से नहीं अपितु अपनी कमियों से द्वंद ही होता है “”

मानस के अंतर्मन में अब द्वंद शुरू हो चुकी है ,
मानो अब निर्बल और बलवान के बीच अंजाम ऐ जंग शुरू हो चुकी है ;

मुझे अडिग हौंसले के साथ खड़ा देख,
मदमस्त तूफान की स्थिति और भी भयावह हो चुकी है ;

मानो उसकी ज़िद ,
इस पहाड़ को उखाड़ फैंकने की अब ठन चुकी है ;

जलजले में नौका पार करना,
अब माँझी की आन पर बन पड़ी है ;

इस जनून से भी दो – दो हाथ करने ,
किस्मत पहले से ही दोहरी चाल चल चुकी है ;

बाँध कफ़न सिर पर दरिया पार करने में अब,
जान की बाज़ी भी लग चुकी है ;

इस लग्न को देख उफ़नती नदी भी,
आगोश में ली कश्ती से अब “” दुलार “” करने जो लगी है ।

सन्देश –

“” कौन कहता है हौंसलों में जान नहीं होती है,
भरोसा नहीं तो मेहनत से मिलकर देख;

सफलता जब मंजिल पाने का रास्ता याद करवाती है ,
तो फिर मील के पत्थर में “” हौंसले के साथ मेहनत “” का नाम भी कुरेदा दिखलाती है। “”

These valuable are views on Definition of Inner Conflict | Meaning of Inner Conflict | Antarman Ki Paribhasha
अंतर्मन का द्वंद | हौंसले के साथ मेहनत

मानस जिले सिंह
अनुयायी – मानस पंथ
उद्देश्य – समाज में शिक्षा, समानता व स्वावलंबन को मूलभूत आवश्यकताओं में कानूनी वैधता दिलवाने में निरन्तर व निर्बाध प्रयासरत रहना।

13 COMMENTS

Subscribe
Notify of
guest
13 Comments
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Garima Singh
Garima Singh
2 years ago

बहुत बढ़िया

Rampratap gedar Ram
Ram gedar
2 years ago

Thaka hara fone hath me liya manas ka chapter khola kuch lines पढी too sir himat बढ़ gayi kya baat kahi hai sir

Amar Pal Singh Brar
Amar Pal Singh Brar
2 years ago

बहुत बढ़िया रचना

Sanjay Nimiwal
Sanjay
2 years ago

मन मे जुनून है अगर
तो

अन्तर्मन के द्वन्द की क्या औकात ……..

Nice Thoughts🙏

Jitu Nayak
Member
2 years ago

Nice 🙂🙂🙂🙂

Juneja juneja
Sandeep juneja
2 years ago

Nice

Jitu Nayak
Member
2 years ago

Nice 🙂🙂🙂🙂

Jitu Nayak
Member
2 years ago

Nice ♥️❤️♥️

Mahesh Soni
Mahesh Soni
4 months ago

“यदि आप किसीसे नीचे है, तो ऊपर वाला आपको कभी कुछ पूछेगा नही।
यदि आप किसीसे ऊपर है, तो नीचे वाले को आपको गिरने के अलावा ओर कुछ सूझेगा नही।”
महेश सोनी

Latest